कैबिनेट मंत्री जीतू का शिवराज पर बड़ा हमला, मोदी-शाह के पैर धोकर भी पियो तो हमें आपत्ति नहीं

Whatsapp

भोपाल: मोदी सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के ऐतिहासिक फैसले के बाद राजनिति पारा जमकर उछाल पर है। मोदी सरकार के इस फैसले के बाद जहां सरकार के इस कदम की जमकर तारीफ हो रही है तो वहीं कांग्रेस ने इसका विरोध किया है। मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बयान पर पलटवार करते हुए उन्हें चापलूस बताया है। जीतू ने कहा अगर वो मोदी-शाह के पैर धोकर भी पिएं तो भी हमें कोई आपत्ति नहीं।

PunjabKesari

दरअसल, पटवारी ने शिवराज के उस बयान पर पलटवार किया है जिसमें उन्होंने कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद पीएम मोदी और शाह की तारीफ की थी और कहा था कि मैं पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को अपना नेता मानता था लेकिन उनके इस फैसले के बाद अब मैं उनकी पूजा करता हूं। शिवराज के इस बयान पर पटवारी ने ट्वीट कर पलटवार करते हुए लिखा है कि शिवराज जी, आप भाजपा में अपनी “साख” खत्म होने के डर से उसे बचाने के लिए मोदी-शाह की पूजा तो क्या उनके पैर धोके पानी पियो तो भी हमें कतई आपत्ति नहीं। लेकिन देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू जी पर टिप्पणी बार बार टिप्पणी आपके “मानसिक दिवालियापन” को दर्शा रहा है।

जीतू ने आगे कहा मध्य प्रदेस की सत्ता में बेदखल होने के बाद बीजेपी में अपना “अस्तित्व” बचाने के लिए मोदी-शाह की चापलूसी में मशगूल शिवराज जी मप्र की मर्यादा का ख्याल रखें। आप 13 साल प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे, मप्र की जनता को पहले एहसास था कि मुख्यमंत्री चुना लेकिन क्या पता था कि चापलूस चुना।