J&K: झूठी अफवाह फैलाने वालों पर गृह मंत्रालय सख्त, कई ट्विटर अकाउंट बंद करने की सिफारिश

Whatsapp

जम्मू कश्मीर को लेकर कथित तौर पर भारत विरोधी दुष्प्रचार करने के लिए आठ ट्विटर हैंडल्स पर सुरक्षा एजेंसियों के अनुरोध पर रोक लगा दी गयी है। अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि इसी तरह की गतिविधियों में कथित रूप से शामिल रहने के लिए जल्द चार और खातों पर रोक लगाई जा सकती है।
इस बारे में ट्विटर के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘हम निजता और सुरक्षा कारणों से लोगों के व्यक्तिगत खातों पर टिप्पणी नहीं करते।” अधिकारियों ने कहा कि ट्विटर खातों के खिलाफ कार्रवाई की गयी क्योंकि वे कथित तौर पर जम्मू कश्मीर पर भारत के खिलाफ झूठा और बेबुनियाद प्रचार कर रहे थे।

जिन अकाउंट को बंद करने की सिफारिश की गई है उनके नाम हैं- @kashmir787-Voice of Kashmir, @Red4Kashmir-MadihaShakil Khan, @arsched-Arshad Sharif, @mscully94-Mary Scully, @sageelaniii-Syed Ali Geelani, @sadaf2k19, @RiazKha61370907 और RiazKha723
जम्मू कश्मीर में अभी हाल में अनुच्छेद 370 हटाया गया है। इसके मद्देनजर सोशल मीडिया पर सरकार का ज्यादा ध्यान है ताकि कुछ ऐसी बातें न फैल जाएं जिससे घाटी में अमन-चैन में खलल पड़े। वैसे भी खुफिया विभाग ने अलर्ट जारी कर रखा है कि कुछ आतंकी गुट जम्मू कश्मीर में किसी बड़े हमले की तैयारी में हैं। ऐसी सूरत में कोई भी अफवाह शांति भंग कर सकती है।

गौरतलब है कि खुफिया विभाग (आईबी) ने अलर्ट जारी कर कहा है कि इस्लामिक स्टेट (आईएस) और आईएसआई समर्थित आतंकवादी सोमवार को भारत में बकर-ईद के मौके पर हमले की साजिश रच रहे हैं। राज्य पुलिस इकाई और पुलिस मुख्यालयों में एक गोपनीय रिपोर्ट में शुक्रवार को खुफिया विभाग ने कहा कि आईएसआई समर्थित जिहादी समूह के आतंकवादी जम्मू  कश्मीर और देश के दूसरे इलाकों में ईद के मौके पर आतंकी घटना को अंजाम दे सकते हैं।