‘देश ने वंशवाद की राजनीति पूरी तरह से नकार दी, फिर भी कांग्रेस ने इससे सीख नहीं ली’

Whatsapp

भोपाल: शनिवार देर शाम कांग्रेस कमेटी की बैठक में एक बार फिर से सोनिया गांधी को अध्यक्ष चुना गया। जिसको लेकर सियासत फिर से गर्मा गई है। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा है कि पिछले आम चुनाव में जनता ने वंशवाद की राजनीति नकार दी, इसके बावजूद कांग्रेस पार्टी ने इससे सीख नहीं ली है। आपको बता दें कि ये सब बातें शिवराज ने भुवनेश्वर में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहीं।

शिवराज ने कहा कि लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद भी कांग्रेस कुछ नहीं सीखी है और यही कारण है कि पार्टी अब भी राहुल गांधी और सोनिया गांधी का नेतृत्व चाहती है। उन्होंने कहा कि ‘बीजेपी में नेता नीचे से ऊपर जाते हैं जबकि कांग्रेस एक परिवार से आगे अभी तक नहीं बढ़ पायी है। यह हैरान करने वाली बात है कि CWC अब भी यही चाहती है कि पार्टी का नेतृत्व राहुल गांधी और सोनिया गांधी करें’
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वंशवाद, परिवारवाद और जातिवाद की राजनीति से चल रही पार्टियों को आम चुनावों में उत्तर प्रदेश और बिहार समेत हर जगह हार मिली। लोगों ने पश्चिम बंगाल में भी तुष्टिकरण की राजनीति को नकार दिया। लोगों ने राष्ट्रवाद और विकास को चुना है। शिवराज ने कहा कि कांग्रेस को लोकतांत्रिक तरीके से अपना नेता चुनना चाहिए अगर ऐसा नहीं हुआ तो कांग्रेस को कोई भी नहीं बचा सकता।