थाने से लौट रही पत्नी पर पति और देवर ने चाकू से गला रेंतकर की हत्या, बहन पर भी किया हमला

Whatsapp

इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर जिले मे आजाद नगर थाना क्षेत्र के मदीना नगर में पति ने अपने 26 साल के भाई के साथ मिलकर बीते शनिवार को सड़क के बीच पत्नी का गला काटकर हत्या कर दी। इस दौरान बीच-बचाव करने आई महिला की मूक-बाधिर बहन को भी उन लोगों ने चाकू मार दिया, जिसके बाद उसकी हालात नाजुक बनी हुई है। आरोपी पति आमिर खान आए दिन पत्नी को पीटता था। करीब चार महीने पहले रुखसाना ने थाने में शिकायत की थी तभी से वह मायके में रह रही थी। शनिवार को परामर्श के लिए रुखसाना थाना आई थी। वहां से लौटते वक्त आमिर और उसके भाई गरीब ने रुखसाना पर हमला कर दिया।

वहीं, आजाद नगर टीआई संजय शर्मा ने बताया कि आरोपियों ने रुखसाना की 26 वर्षीय बहन शहनाज पर भी जानलेवा हमला किया है। वह अभी एमवाय अस्पताल के आईसीयू में भर्ती है। वहीं रुखसाना के छोटे भाई सलमान ने बताया कि 3 साल पहले उसकी बहन रुखसाना की शादी आमिर से हुई थी, उनकी दो बेटियां भी हैं। आमिर रंगाई पुताई का काम करता था। बाद में यह काम बंद कर वह जुआ खेलने लगा, जिससे घर में रोजाना विवाद हो रहे थे। चार महीने पहले रुखसाना ने पति की शिकायत महिला थाने में की थी। तब पुलिस ने परामर्श कर उनमें सुलह करवाने की कोशिश की थी, लेकिन सुलह नहीं हो पा रही थी। रुखसाना अपनी दोनों बेटियों को लेकर मायके में रह रही थी।
वहीं शनिवार को आजाद नगर थाने पर उसे परामर्श के लिए बुलाया गया था। वह अपनी मूक-बधिर बहन शहनाज के साथ थाने गई थी। दोपहर करीब 3 बजे दोनों घर लौट रही थीं। तभी रास्ते में हक मस्जिद वाली गली में आमिर और उसके भाई गरीब ने रोककर रुखसाना के गले पर चाकू मार दिया। फिर चाकू से लगातार गोदते रहे। शहनाज बचाने आई तो गरीब ने उसके सिर पर चाकू से हमला कर किया। लोग यह सब देखते रहे, लेकिन कोई भी बचाने नहीं आया। वहीं आमिर और उसका भाई रुखसाना के दम तोड़ने के बाद मौके से फरार हो गए।
वहीं घटना की सूचना मिलने के कुछ देर बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को एमवायएच अस्पताल पहुंचाया। यहां रुखसाना को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया, जबकि शहनाज की हालत नाजुक है। रुखसाना के पिता चांद खान ने आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस से गुहार लगाई है। रुखसाना के पिता का आरोप है कि दामाद के साथ दो और लोग होने की जानकारी मिली है, जिन्होंने उनकी बेटी पर हमला किया था।