तमिलनाडु में आयकर विभाग के छापे में मिली 700 करोड़ रुपए की अघोषित आय

Whatsapp

चेन्नई। आयकर विभाग ने तमिलनाडु में बीयर और भारतीय निर्मित विदेशी शराब (IMFL) के दो प्रमुख उत्पादकों के यहां छापा मारकर जब्ती अभियान के दौरान 700 करोड़ की बेहिसाब आय बरामद की। मंगलवार की सुबह से चलाए गए तलाशी अभियान में चेन्नई, कोयम्बटूर, तंजावुर और केरल, आंध्र प्रदेश व गोवा सहित राज्य के विभिन्न स्थानों में 55 स्थानों पर छापा मारा गया।

आयकर विभाग ने कहा कि आयकर विभाग ने 6 अगस्त 2019 को तमिलनाडु में बीयर और आईएमएफएल (भारतीय निर्मित विदेशी शराब) के प्रमुख उत्पादकों के मामले में एक खोज और जब्ती अभियान चलाया। हालांकि, विभाग ने किसी भी डिस्टलरी का नाम जाहिर नहीं किया। छापे की कार्रवाई में प्रमोटर्स, प्रमुख कर्मचारियों और मटीरियल के आपूर्ति करने वाले कुछ लोगों के घर शामिल थे।

कई महीनों से जमा की गई खुफिया जानकारी के आधार पर छापा मारने की कार्रवाई की गई थी। आयकर विभाग को जानकारी मिली थी कि व्यावसायिक समूह इसकी उत्पादन प्रक्रियाओं में इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री पर अपने खर्च को बढ़ाकर बड़े पैमाने पर कर चोरी कर रहा था। बताया जा रहा है कि छह साल की अवधि के दौरान करीब 400 करोड़ रुपए की कर चोरी की गई।

तलाशी के दौरान विभाग को एक अन्य डिस्टलरी ग्रुप के द्वारा भी इसी तरह से कर चोरी करने के सबूत मिले हैं। इस आधार पर इस ग्रुप के सात ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाया गया। बताया जा रहा है कि तलाशी अभियान अभी भी जारी है। विभाग को तलाशी के दौरान जानकारी मिली थी कि कुछ कर्मचारी अघोषित नगदी के साथ जा रहे हैं। उनकी कार को ट्रैक कर आयकर अधिकारियों ने करीब 4.5 करोड़ रुपए की नगदी बरामद की थी।