Breaking News
Home / राज्य / नईदिल्ली / जम्मू-कश्मीर के विध्वंस की तारीख से मेल बैठाने के लिए पांच अगस्त को भूमि पूजन का फैसला हुआ : माकपा

जम्मू-कश्मीर के विध्वंस की तारीख से मेल बैठाने के लिए पांच अगस्त को भूमि पूजन का फैसला हुआ : माकपा

नयी दिल्ली : माकपा ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि सरकार ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए पांच अगस्त की तारीख का चयन किया ताकि जम्मू-कश्मीर के ‘विध्वंस’ की तिथि के साथ मेल बैठाया जा सके। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने पिछले साल पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म कर दिया था।

माकपा के मुखपत्र ‘पीपुल्स डेमोक्रेसी’ के संपादकीय में कहा गया है,”प्रधानमंत्री एक धार्मिक स्थल के लिए आधारशिला रखने जा रहे हैं जो सरकार के धर्मनिरपेक्ष सिद्धांत का उल्लंघन है।” पार्टी ने आरोप लगाया, च्च्भूमि पूजन के लिए पांच अगस्त की तारीख का चयन किया गया। इस तारीख का जानबूझकर चयन किया गया क्योंकि जम्मू-कश्मीर के विध्वंस और बाबरी मस्जिद के स्थान पर मंदिर का निर्माण हिंदुत्वादी ताकतों के ये दोनों मुख्य एजेंडे हैं।

About Akhilesh Dubey

Check Also

UNSC में भारत का कड़ा रुख, कहा- दाऊद इब्राहीम, लश्कर और जैश पर हो IS जैसी कार्रवाई

नई दिल्ली। चीन की मदद से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कश्मीर मुद्दे को उठाने में …