CET परीक्षा में गड़बड़ी के बाद एक्शन में आए जीतू पटवारी, विश्वविद्यालय में धारा 52 की लागू

Whatsapp

भोपाल/इंदौर: इंदौर के देवी अहिल्या विश्वविध्यालय में सीईटी परीक्षा में हुई गड़बड़ी सामने आने के बाद उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने विश्वविद्यालय में धारा 52 लगाने की घोषणा की है। मंत्री पटवारी ने कुप्रबंधन की जांच के दौरान शिकायतों के प्रमाणित होते ही सख्त कार्रवाई की है।

जानकारी के अनुसार, रविवार को देवी अहिल्या विश्वविध्यालय में सीईटी परीक्षा में बड़े पैमाने पर हुई गड़बड़ी को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन आरोपों से घिरा हुआ है। जिसके बाद सीईटी ग्रुप डी की परीक्षा निरस्त कर दी गई थी। वहीं सोमवार सुबह प्रदर्शन करने आए कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने कुलपति से कहा था कि परीक्षा नहीं हुई तो क्या अब बच्चे फांसी लगा लें? टेस्ट में ऐसी स्थिति क्यों बनी, कंपनी पर कार्रवाई होना चाहिए। इस पर कुलपति ने भी कार्रवाई का आश्वासन दिया था।

परीक्षा में गड़बड़ी को लेकर रविवार को छात्र संगठन भी काफी सक्रिय नजर आया। एनएसयूआई ने जहां उच्च शिक्षा मंत्री को पूरे मामले की जानकारी दी और परीक्षा में भ्रष्टाचार को लेकर शिकायत की। मामले में छात्र नेताओं ने गड़बड़ी की जांच के लिए भोपाल की टीम से करवाने की मांग उठाई। गंभीरता दिखाते हुए मंत्री ने तुरंत भोपाल में अधिकारियों को जांच के लिए आदेश दिए, देवी अहिल्या विश्वविध्यालय में धारा 52 लागू कर दी।