मिर्ची बाबा ने महंत नरेंद्र गिरी समेत हजारों लोगों के खिलाफ दर्ज कराई FIR

Whatsapp

भोपाल: लोकसभा चुनाव में भोपाल प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के लिए जलसमाधि लेने वाले मिर्ची बाबा अयोध्या नगर थाने में रिपोर्ट लिखाने पहुंचे। उन्होंने महंत नरेंद्र गिरी एवं अन्य लोगों के खिलाफ धमकाने का आरोप लगाकर थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।

जानकारी के अनुसार, लोकसभा के दौरान मिर्ची बाबा यानी वैराग्यानंद ने दिग्गी राजा की जीत के लिए 5 क्विंटल मिर्चों का हवन किया था, तथा दावा पेश किया था कि अगर दिग्गी राजा चुनाव हारते हैं तो वे जिंदा जलसमाधि ले लेंगे, लेकिन चुनाव में दिग्गी राजा की हार हुई जिसके साथ ही मिर्ची बाबा गायब हो गए। मीडिया के साथ साथ सारा प्रदेश उन्हें अपना वादा याद दिलाने के लिए उनसे संपर्क करने में जुट गया। जिसमें उनके मोबाइल पर करीब 3 हाजर कॉल आए। जिससे वे खासा परेशान हैं।

इस मामले में इंन्हीं कॉलस को लेकर मिर्ची बाबा रिपोर्ट दर्ज कराने थाने की शरण में पहुंचे हैं। मामले मे मिर्ची बाबा के पास जो कॉल्स आई हैं उनकी जांच हो रही है। जांच के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी। स्वामी वैराग्यानंद गिरी के वकील सैयद मजीद अली ने कहा कि पुलिस को उन्होंने सौ पन्ने के दस्तावेजों में तीन हजार फोन कॉल्स की डिटेल सौंपी है। शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 507 के तहत नरेंद्र गिरि और अन्य के खिलाफ अयोध्या नगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार महंत नरेंद्र गिरी को पकड़ने पुलिस प्रयागराज जाएगी।

शिवराज बोले रद्द हो एफआईआर
मामले में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने पुलिस की कार्रवाई को गलत बताते हुए कहा है की फर्जी मिर्ची बाबा के कहने से अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष पर कार्रवाई गलत है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि नरेंद्र गिरी के खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द होनी चहिए।