MP में 11,000 लोगों की बदल गई जाति, नहीं मिलेगा सरकारी योजनाओं का लाभ

धार: जिले के बदनावर तहसील में एक बड़ी प्रशासनिक चूक सामने आई है। यहां अज्ञानता व लापरवाही के चलते हज़ारों लोगों की जाति ही बदल गई। अधिकारियों द्वारा एक अक्षर के फेर से हज़ारों लोग अनुसूचित जनजाति से अनुसूचित जाति के हो गए हैं। जाति बदलने से लोग परेशान हैं। वहीं उन्हें कई सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा।

जानकारी के अनुसार, धार जिले में महज एक अक्षर के फेर में 29 गांव के 11 हजार लोग मोगिया समाज के हैं। बदनावर प्रशासन लोगों को मोगिया की जगह मोघिया लिखकर जाति प्रमाण पत्र दे रहा है। इस एक ‘घ’ अक्षर की वजह से लोगों की जाति बदल गई। इसका नतीजा ये हुआ कि अनुसूचित जाति यानी एसटी वर्ग के ये लोग अब एससी वर्ग के हो गए। इस वजह से स्कूली बच्चों और उनके परिवार को एसटी वर्ग के लिए मिलने वाली सरकारी योजनाओं का लाभ बंद हो गया।