फ्लोर टेस्ट में पास हुई येदियुरप्पा सरकार, विधानसभा में हासिल किया विश्वासमत

Whatsapp

कर्नाटक में नई सरकार बना रहे बीजेपी ते येदियुरप्पा की मुश्किलें कम हो गई हैं। येदियुरप्पा सरकार की फ्लोर टेस्ट की मुश्किल पार हो गई है। विपक्ष ने मत विभाजन की मांग नहीं की और येदियुरप्पा सरकार फ्लोर टेस्ट में पास हो गई। इसी के साथ सरकार अपने आगे के कामकाज में जुट गई है। अभी 207 विधायकों वाली विधानसभा है, जिसमें बहुमत के लिए 104 का आंकड़ा चाहिए था और बीजेपी के पास 105 विधायक हैं। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने को है।

बता दें कि जैसे ही सदन में सभी विधायक आए तो सबसे पहले मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कांग्रेस नेता सिद्धारमैया से हाथ मिलाया। अयोग्य करार दिए जा चुके कांग्रेस विधायक बैराथी बसवराज का कहना है कि हमें किसी पार्टी ने ज्वाइनिंग का ऑफर नहीं दिया था, ये पूरी तरह से हमारा निर्णय था। हम पर किसी ने दबाव नहीं बनाया था। हम सभी एकता दिखाना चाहते थे, क्योंकि हम अपनी लड़ाई खुद ही लड़ना चाहते थे।