Breaking News
Home / मध्यप्रदेश / भोपाल / E-Tendering घोटाले में BJP के पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के दो सहयोगी गिरफ्तार

E-Tendering घोटाले में BJP के पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के दो सहयोगी गिरफ्तार

भोपाल: ई-टेंडर घोटाले में बीजेपी के पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के दो सहयोगियों पर गाज गिरी है। उनके सहयोगी वीरेंद्र पांडे व नीलेश अवस्थी को शुक्रवार शाम को गिरफ्तार कर लिया गया। यह कार्रवाई राज्य के आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (ईओडब्ल्यू) ने की है। हालांकि मिश्रा का कहना है कि ई-टेंडरिंग में कोई घोटाला ही नहीं हुआ है।

ईओडब्ल्यू के महानिदेशक केएन तिवारी के अनुसार शनिवार को पांडे व अवस्थी के घरों व अन्य ठिकानों पर छापे मारे गए। इस कार्रवाई में उनके घर से कई दस्तावेज जब्त किए गए हैं। उन्होंने बताया कि अप्रैल में एफआईआर दर्ज होने के बाद दोनों से कई बार पूछताछ की जा चुकी है। वहीं एक अधिकारी ने जानकारी दी कि दोनों ने तबीयत खराब होने की शिकायत के बाद दोनों को एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती किया गया है।

इस बीच पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हमारी सरकार के दौरान ई-टेंडरिंग की प्रक्रिया में छेड़छाड़ की शिकायत सामने आने के बाद हमने जांच के आदेश दिए थे। दूसरी ओर मौजूदा कमलनाथ सरकार ने उन्हीं एजेंसियों को ठेके दे दिए, जिनके विरुद्ध भाजपा सरकार ने अनियमितताओं के लिए जांच के आदेश दिए थे। उन्होंने कहा कि मैं मुख्यमंत्री कमलनाथ को चुनौती देता हूं कि वे तथ्य और सबूतों के साथ सामने आएं। हमने उन सारे ठेकों को निरस्त किया था, जिनके खिलाफ ई-टेंडरिंग प्रक्रिया में छेड़छाड़ की शिकायतें थीं।

बता दें कि कांग्रेस ने ई-टेंडरिंग घोटाले को विधानसभा चुनावों में काफी जोरशोर से उठाया था और सरकार में आने के बाद ठोस कार्रवाई की बात कही थी। इसी वजह से 10 अप्रैल को 3 हजार करोड़ के इस घोटाले  में ईओडब्ल्यू ने सात एजेंसियों, सरकारी विभागों के अधिकारियों और अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी।

About Akhilesh Dubey

Check Also

रेडीमेट गारमेंट का सबसे बड़ा उत्पादक बनेगा मप्र

राष्ट्र चंडिका भोपाल । राज्य सरकार के प्रयासों के चलते अब मध्य प्रदेश रेडीमेड गारमेंट का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *