प्रधानमंत्री के संदेश के बाद सबकी चिंता हुई दूर, रविवार की रात प्रकाश बिखेरेंगे कोयलांचल के लोग

धनबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संदेश सुनकर धनबाद कोयलांचल के लोगों ने राहत की सांस ली है। यह कहना भी गलत न होगा कि मोदी का संदेश सुनकर लोगों में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए जोश भर गया है। प्रधानमंत्री के संदेश को लेकर जनता चिंतित थी। जनता के मन में तरह-तरह के सवाल सवाल उठ रहे थे। क्या 21 दिन के लॉकडाउन पर भी प्रधानमंत्री कुछ बोलेंगे। लॉकडाउन 14 अप्रैल तक रहेगा या विस्तार होगा। चिंता की यह वहज थी। प्रधानमंत्री का संदेश सुनकर सबकी चिंता दूर हो गई है।

कोरोना संकट सामने आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार 19 मार्च की रात राष्ट्र के नाम संबोधित करते हुए 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का एलान किया था। इसके बाद 24 मार्च की रात राष्ट्र को संबोधित करते हुए 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की। शुक्रवार सुबह नाै बजे प्रधानमंत्री के वीडियो संदेश का प्रसारण हुआ। धनबाद के लोग अपने-अपने घरों में टेलीविजन खोलकर प्रधानमंत्री का संदेश सुनने के लिए नाै बजे से पहले ही बैठ गए थे। प्रधानमंत्री के संदेश को सुन लोगों के चेहरे खिल उठे। लॉकडाउन के विस्तार को लेकर फिलहाल मन में उठ रहे सवाल थम गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में जनता से अपील करते हुए कहा-वह इस रविवार यानी 5 अप्रैल को देशवासियों से नाै मिनट चाहते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि रात नाै बजे, नाै मिनट तक लोग अपने घरों से बाहर न आएं और दीया, टॉर्च या फिर मोमबत्ती जलाए। प्रकाश की इस ताकत से हम कोरोना वायरस के अंधकार को एक साथ आकर मात देंगे। मोदी ने कहा कि 5 अप्रैल को रात 9 बजे घर की लाइट बंद करके, घर के दरवाजे पर मोमबत्ती, दिया या फ्लैश लाइट जलाएं। पीएम मोदी ने कहा कि इस रविवार को हमें संदेश देना है कि हम सभी एक हैं। प्रधानमंत्री ने अपील करते हुए कहा कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन ना करें।