कोरोना के खिलाफ डटे PM मोदी, सुबह 3 बजे तक बैठकें…स्पेशनल टीम से मिनट-मिनट की जानकारी

कोरोना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके विशेषज्ञों की एक बड़ी टीम दिन-रात काम में जुटी हुई है। पीएम मोदी इन अधिकारियों से वायरस पर मिनट-मिनट की खबर ले रहे हैं और हर गतिविधि पर खुद नजर बनाए हुए हैं। देश में 21 दिन के लॉकडाउन का फैसला पीएम मोदी ने इसी विशेष टीम से राय के बाद लिया था। पीएमओ के उच्चपदस्थ सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी हर रोज 17 से 18 घंटे काम कर रहे हैं। पीएमओ के सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री अक्सर सुबह तीन बजे तक या उससे भी अधिक समय तक जागकर मॉनिटरिंग करते हैं। देर रात तक बैठकों का सिलसिला चलता रहा है और पीएम मोदी इन सभी बैठकों में हिस्सा लेते हैं। बैठकों में पीएम मोदी महामारी को रोकने के लिए उठाए जाने वाले कदमों की समीक्षा करते हैं।

इतना ही लगातार वीडियो कांफ्रेंसिंग करने और प्रमुख कैबिनेट मंत्रियों से परामर्श आदि करने के अलावा प्रधानमंत्री विशेषज्ञों की 11 कोर टीमों के साथ काम कर रहे हैं। ये टीमें 24 घंटें मिशन मोड में काम कर रही हैं। पीएम मोदी की विशेषज्ञों की टीम में-डॉक्टर, जैव-वैज्ञानिक, महामारी विशेषज्ञ और अर्थशास्त्री शामिल हैं, वे लगातार इन सबके संपर्क में रहते हैं। पीएम मोदी का ध्यान इमर्जेंसी मेडिकल मैनेजमेंट प्लान पर ज्यादा है ताकि लोगों को मैडिकल की हर सुविधा पहुंच सके। पीएम मोदी टेस्टिंग और अस्पताल व क्वारंटाइन के इंतजामों पर भी खासा नजर बनाए हुए हैं। पीएम मोदी सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं और आए दिन लोगों के साथ कोई न कोई जानकारी साझी करते रहते हैं।

साथ वे मीडिया के टच में भी हैं ताकि इसके जरिए लोगों में महामारी के खिलाफ संदेश भी जाए। पीएम मोदी ने हाल में अपने शेड्यूल में समय निकालकर टीवी चैनलों और अखबारों के संपादकों सहित मीडिया घरानों के मालिकों के साथ बातचीत की थी। उन्होंने रेडियो जॉकी के साथ वीडियो कांफ्रेंस भी की थी।