दिल्ली: कोरोना वायरस के संदिग्ध ने अस्पताल में की खुदकुशी की कोशिश, मचा हड़कंप

Whatsapp

लखनऊ: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में कोरोना पॉजिटिव युवक की मौत को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दुखद बताया है। उन्होंने बुधवार को कहा कि गोरखपुर में कोरोना वायरस के कारण 25 साल के युवक की मौत की घटना अत्यंत दुखद है। इसके साथ ही उन्होंने मृतक युवक के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि घर लौट रहे जिन लोगों की मौत हो गई है, सरकार उनके शव की पहचान करा कर पूरे सम्मान के साथ उनके घरों तक पहुंचाए। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि इनके परिजनों को तत्काल 25 लाख रुपये की सहायता राशि भी दी जानी चाहिए। पूर्व मुख्यमंत्री ने व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए और सरकार पर भ्रष्टाचारियों का खेल रोक पाने में विफल रहने का आरोप लगाया।

भ्रष्टाचारियों का खेल नहीं रोक पा रही है सरकार 
उन्होंने कहा कि राज्य के अस्पतालों को बड़े पैमाने पर चिकित्सकीय उपकरणों की जरूरत है। प्रयागराज में दवाएं खत्म हो गई हैं, तो बांदा में दो वेंटिलेटर के भरोसे मेडिकल कॉलेज और अस्पताल चल रहा है। आजमगढ़ के सांसद ने सवाल किया कि कोरोना से जंग के बीच आजमगढ़ में डॉक्टरों के नाम पर जारी हुए 3 हजार मास्क कहां गए? त्रासदी के दौर में भी सरकार भ्रष्टाचारियों का खेल नहीं रोक पा रही है।