संजय गांधी अस्पताल की 4 घंटे बंद रही बिजली, वेंटिलेटर बंद होने से महिला की मौत

Whatsapp

रीवा: रीवा शहर के संजय गांधी स्मृति हॉस्पिटल में मरीज की मौत पर परिजनों ने जमकर हंगामा मचाया है। सूत्रों की मानें सीधी जिला अस्पताल से एक सप्ताह पहले निर्मला मिश्रा पति स्तुति मिश्रा को एसजीएमएच रेफर किया गया था। यहां चिकित्सकों ने महिला को आईसीयू में भर्ती कर वेंटिलेटर सपोर्ट पर रख दिया। मंगलवार की शाम तक सबकुछ सही चल रहा।पर आधी रात करीब चार घंटे के लिए बिजली बंद हो गई। जिससे वेंटीलेकर काम करना बंद कर दिया। ऐसे में मरीज की मौत हो गई। बुधवार की सुबह पोस्ट मार्टम के समय महिला के परिजनों ने एसजीएमएच चौकी के सामने जमकर हंगामा मचाया है। अंतत: लिखित शिकायत कर शव को घर ले गए। फिलहाल इस मामले में प्रबंधन ने चुप्पी साध कर रखी।किसी ने नहीं सुनी फरियादपति ने आरोप लगाया कि मंगलवार रात 12 बजे के आसपास बिजली बंद हुई थी। ऐसे में वेंटीलेटर ने काम करना बंद कर दिया। पत्नी की हालत खराब होते देख चिकित्सकों से लेकर नर्स से फरियाद की। पर किसी ने नहीं सुना। देखते ही देखते बिजली के आभाव में पत्नी खत्म हो गई।सांस लेने में आ रही थी तकलीफबेटी ने बताया कि मां को सांस लेने में तकलीफ होने की वजह से सीधी जिला अस्पताल से बेहतर इलाज के लिए रीवा भेजा गया। लेकिन इसी अस्पताल ने मेरी मां की जान ले ली है। यहां इलाज के नाम पर सिर्फ उंची बिल्डिंग ही है। बाकी कुछ नहीं है। नर्स इंजेक्शन तक लगाना नहीं जानती है।