जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल मलिक बोले, सामने से गोलियां चलेंगी तो गुलदस्ता नहीं देंगे

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि हुर्रियत भारत सरकार के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है लेकिन अगर सामने से गोलियां चलेंगी तो गुलदस्ता नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि यह सकारात्मक पहल है।

शनिवार को जारी बयान में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि यह हौसला बढ़ाने वाला है कि हुर्रियत के नेता बातचीत करने के लिए तैयार हैं। सत्यपाल मलिक ने हुर्रियत (एम.) के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारूक के ड्रग के खतरे पर बोलने के लिए अभिवादन भी किया। हुर्रियत की सामाजिक मुद्दों पर की जा रही बातचीत का स्वागत होना चाहिए।