अवैध हथियारों की खरीद-फरोख्त और डकैती की योजना बनाने वाले 12 आरोपी धराए, इनमें 3 नाबालिक शामिल

Whatsapp

बालाघाट: बालाघाट पुलिस ने तीन अहम और संवेदनशील मामलों का खुलासा किया है। अवैध हथियार रखने, डकैती की योजना बनाने और ज्वेलरी शॉप से भारी मात्रा में चांदी के जेवरात चोरी करने के अलग-अलग प्रकरणों में लिप्त आरोपी अब सलाखों के पीछे हैं। तीनों मामलों में कुल 13 आरोपी गिरफ्तार हुए हैं, इनमें 3 अपचारी बालक भी हैं।दो प्रकरणों में गिरफ्तार आरोपियों के पास से भारी मात्रा में हथियार, पिस्टल, देशी कट्टे, कारतूस मिले है। वहीं चांदी चोरी मामले में 23 लाख कीमत के 26 किलो के चांदी के आभूषण मिले हैं। शनिवार को पत्रकारवार्ता में पुलिस अधीक्षक समीर सौरभ ने बताया कि गिरफ्तार ज्यादातर आरोपियों के पुराने क्रिमिनल रिकॉर्ड हैं। चांदी चोरी के मास्टरमाइंड को गोधरा से गिरफ्तार किया है, जबकि दो आरोपी फरार हैं।गोधरा से पकड़ाया मास्टरमाइंडथाना मलाजखंड के ग्राम पौनी में 25 जून को ज्वेलरी शॉप से अज्ञात चोरों ने भारी मात्रा में चांदी के जेवरात पर हाथ साफ किया था। पुलिस ने विवेचना शुरू की। टीम ने गोधरा पहुंचकर स्थानीय पुलिस की मदद से मुख्य आरोपी उस्मान गनी पिता मोहम्मद कॉफीवाला (56) निवासी अमन पार्क सोसाइटी लिलेसरा रोड, गोधरा जिला पंचमहल (गुजरात) को गिरफ्तार किया।दो आरोपी इरफान उर्फ जफरू पिता फारुक नाटी (35) निवासी हड्डी कारखाने के पास गोधरा जिला पंचमहल और उमर उर्फ पंपोई पिता अब्दुल सत्तार जाड़ी (30) निवासी अहमद नगर गोधरा फरार हैं।साथ ही लामटा के पेट्रोल पंप में डकैती की योजना बना रहे छह आरोपियों को भारी मात्रा में अवैध हथियारों, कारतूस, मैग्जीन के साथ गिरफ्तार किया है। मुख्य आरोपी रजत उर्फ अनुभव पिता सुनील यादव (25) निवासी वार्ड-14 ग्राम गर्रा, वारासिवनी के साथ अन्य 5 आरोपियों ने डकैती की योजना बनाने की सूचना मिलने पर उनकी घेराबंदी की गई और सभी को गिरफ्तार किया।घेराबंदी कर किया गिरफ्तारमुखबिर से मिली सूचना पर कोतवाली पुलिस ने शुक्रवार को डेंजर रोड तरफ की घेराबंदी करते हुए मुकुंद उर्फ राजा और शेख नोमान उर्फ तौसिफ को पिस्टल और जिंदा कारतूस की खरीद-फरोख्त करते हुए गिरफ्तार किया। आरोपी मुकुंद ने पूछताछ में अन्य 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनमें 3 अपचारी बालक हैं।