पंजाब पुलिस करेगी कान्फ्रेंस, एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स के ADGP खोलेंगे राज; लॉरेंस से पूछताछ का ब्यौरा देंगे

Whatsapp

चंडीगढ़: एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स के ADGP प्रमोद बान।पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में दूसरी बार पंजाब पुलिस मीडिया के सामने होगी। एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (AGTF) के ADGP प्रमोद बान प्रेस कान्फ्रेंस करेंगे। जिसमें मूसेवाला हत्याकांड को लेकर अब तक हुई कार्रवाई का ब्यौरा देंगे। इससे पहले मूसेवाला की हत्या के दिन DGP वीके भावरा ने प्रेस कान्फ्रेंस की थी। हालांकि उसके बाद पुलिस मीडिया के सामने नहीं आई।इस मामले में सबसे अहम दिल्ली की तिहाड़ जेल से लाए गैंगस्टर लॉरेंस से पूछताछ है। लॉरेंस पिछले 8 दिन से पंजाब पुलिस के पास है। उससे क्या पूछताछ हुई, इसके बारे में पंजाब पुलिस ने चुप्पी साध रखी है।पंजाब के DGP वीके भावरा।पहली बार विवादों में घिर गई थी पंजाब पुलिससिद्धू मूसेवाला की हत्या के तुरंत बाद DGP वीके भावरा ने प्रेस कान्फ्रेंस की थी। उन्होंने इसे इंटर गैंग राइवलरी बता दिया। बेटे का नाम गैंगवार से जोड़े जाने पर मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह खफा हो गए। उन्होंने डीजीपी से माफी मांगने को कहा। जिस पर डीजीपी को स्पष्टीकरण जारी करना पड़ा। उसके बाद से पंजाब पुलिस मीडिया के सामने नहीं आई। हालांकि इस दौरान 2 बार पकड़े गए आरोपियों के बारे में जरूर जानकारी दी गई।दिल्ली पुलिस के स्पेशल पुलिस कमिश्नर HGS धालीवाल लगातार मूसेवाला हत्याकांड के बारे में जानकारी दे रहे हैं।दिल्ली पुलिस लगातार दे रही जानकारीपंजाब पुलिस के उलट दिल्ली पुलिस मूसेवाला हत्याकांड में एग्रेसिव तरीके से काम कर रही है। दिल्ली पुलिस ने पहले संदिग्ध शार्प शूटर्स की लिस्ट तैयार की। फिर पुणे पुलिस के साथ मिलकर संदिग्ध शार्प शूटर्स संतोष जाधव और सौरव महाकाल को पकड़ा। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने ही मूसेवाला हत्याकांड में शामिल हरियाणा के सोनीपत के शार्प शूटर प्रियवर्त फौजी और कशिश को पकड़ा। जिनसे बड़ी संख्या में आधुनिक हथियार भी बरामद हुए।