बीसूका उपाध्यक्ष डाॅ. चंद्रभान बोले-क्या भाजपा के कार्यकर्ता है पाक-साफ,सिर्फ विपक्षियों के खिलाफ कार्रवाई क्यों

Whatsapp

चित्तौड़गढ़: बीसूका उपाध्यक्ष डॉ चंद्रभान के चित्तौड़गढ़ आने पर सांवलिया जी मंदिर मंडल ने किया स्वागत।बीस सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन एवं समन्वय समिति के उपाध्यक्ष डाॅ. चंद्रभान आज चित्तौड़गढ़ दौरे पर आ रहे हैं। यहां उन्होंने कलेक्ट्रेट सभागार में बीसूका की समीक्षा बैठक ली है। इस दौरान उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि केंद्र सरकार जिस तरह से सरकारी एजेंसियों जैसे ईडी और सीबीआई का गलत फायदा उठा रही है, यह गलत है। अपने विरोधियों के खिलाफ इन एजेंसियों का उपयोग करना, उन्हें डराना धमकाना, दबाव में लाना, उन्हें बदनाम करना किसी भी दृष्टि से सही नहीं है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार अपने राजनीतिक फायदे के लिए उनका उपयोग कर रही है। राहुल गांधी के साथ जो भी हो रहा है यह राजनीतिक दुर्भावना की वजह से हो रहा है। मुझे अफसोस के साथ कहना पड़ रहा है कि केंद्र के मोदी सरकार को जिन राष्ट्रीय मुद्दों पर काम करना चाहिए जैसे विकास के कार्य हो, अर्थव्यवस्था के कार्य, बेरोजगारी, गरीबी हो, महंगाई हो उन पर कार्य ना करके इन चीजों पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं। एक तो राजनीतिक में यह विभाजनकारी नीति लेकर आए हैं। एक तरफ तो यह कहते हैं कि देश में सब को एक होना चाहिए और दूसरी तरफ सांप्रदायिकता का माहौल खराब कर रहे हैं। इससे देश में विभाजन की स्थिति बन रही है। उन्होंने कहा कि विरोधियों के दल को कमजोर करने के लिए सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रहे हैं। हम इसका जनतांत्रिक तरीके से विरोध कर रहे हैं।आठ सालों से भाजपा के किसी सदस्य के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं हुईबीसूका उपाध्यक्ष डाॅ. चंद्रभान ने कहा कि एक सवाल है। पिछले आठ सालों से केंद्र में मोदी की सरकार है। इस दौरान जितने भी छापे पड़े हैं या कोई कार्रवाई हुई है, वह हमेशा विरोधी दलों के खिलाफ हुई है, खासकर कांग्रेस दल के खिलाफ। आठ सालों से जितने भी अपराधिक कार्य हुए हैं, वह हमेशा विपक्ष के नेताओं ने या कांग्रेस के नेताओं ने ही किए हैं क्या? भाजपा अपने आप को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बताती है। उनके हिसाब से 10 करोड़ सदस्य हैं। क्या 10 करोड़ सदस्य पाक साफ है? 8 सालों में उन्होंने कोई भी गलती अपराध नहीं किया है? उनके खिलाफ कभी कोई कार्रवाई क्यों नहीं हुई है। लोकतांत्रिक देश है हमारा, सरकारें पलट जाती है। जनता ही उन्हें पलट देते हैं लेकिन जो यह जांच एजेंसियां है, इनकी अपनी विश्वसनीयता है। आज कोई भी आम इंसान भी क्रिमिनल केस में फंसता है तो वह सीबीआई जांच की मांग करता है, लेकिन अब इसकी विश्वसनीयता ही जब खत्म हो जाएगी तो दोबारा विश्वास आना भी मुश्किल हो जाएगा।भाजपा सत्ता पाने के लिए अपना रही है साम-दाम-दंड-भेदउन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी बिना सरकार के रह नहीं सकती। इनका तो एक ही स्पष्ट फार्मूला है अगर चुनाव में जीते हैं तो उस सरकार बनाएंगे, अगर विरोधी जीते हैं तो साम-दाम-दंड-भेद से अपनी सरकार बनाएंगे। कर्नाटका में उन्होंने ऐसा ही किया। मध्यप्रदेश में भी किया और अब महाराष्ट्र में कर रहे हैं। राजस्थान में भी उन्होंने कोशिश की थी लेकिन सफल नहीं हो पाए। आज भी कोशिश करते रहते हैं। यह गलत परंपरा है और गैर लोकतांत्रिक है। यह तो जनता का भी अपमान है। जनता किसी को अपना वोट देकर सरकार बनाती है लेकिन भाजपा पार्टी रुपए पैसे या सत्ता के दम पर सरकार को गिरा कर अपनी सरकार बना लेती है। जिस तरह से हॉर्स ट्रेडिंग कर रहे हैं, यह गलत है। जनता को यह बात समझनी चाहिए और मीडिया को भी यह मुद्दा उठाना चाहिए। मेरा मानना है कि देश में लोकतंत्र मजबूत है, लोकतंत्र की जड़ें मजबूत है, लोग इसका समाधान ढूंढ लेंगे और समय आने पर करारा जवाब भी देंगे।