घर के हर हिस्से में है वास्तु दोष, तो अपनाएं ये टिप्स

Whatsapp

अक्सर लोगों को कहते सुना जाता है कि वो अपने नए घर में ये सोचकर प्रवेश करते हैं कि उनके जीवन में सब अच्छा हो।

परंतु ज्यादातर लोगों का ये केवल सपना ही बनकर रह जाता है क्योंकि उनके घर में शुभता की जगह अशुभता का आगमन हो जाता है। अब सोचने वाली बात ये है कि आखिर ऐसा होता क्यों है तो आपको बता दें लगभग मामलों के इसका कारण कुछ और नहीं बल्कि वास्तु दोष होता है। जी हां, वास्तु शास्त्र में बताया गया है जब कोई व्यक्ति वास्तु के मद्देनजर अपने घर का निर्माण नहीं करवाता तो उसे इसका बुरा परिणाम झेलना पड़ता है। ऐसे में होता ये है कि घर बनवाने वाले घर के मुखिया के साथ-साथ प्रत्येक सदस्य को अपने जीवन में इसके बुरे परिणामों से जूझना पड़ता है। जरा ठहरिए क्या आपके घर में भी ये समस्या चल रही है? अर्थात क्या आपके घर में भी अनेक प्रकार की समस्याएं व कठिनाईयां पैदा हो रही हैं। तो सावधान हो जाईए, क्योंकि इसका कारण कुछ और नहीं बल्कि वास्तु शास्त्र है। तो अगर आप अपने घर में वास्तु सुधार करना चाहते हैं, या नए घर का निर्माण करवाने को सोच रहे हैं तो आपको बता दें आगे की जानकारी आपके लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकती है।

वास्तु विशेषज्ञ के अनुसार घर बनवाते समय वास्तु का ध्यान रखना बेहद जरूरी है, इसकी वजह है वास्तु दोष। जब किसी के जीवन में वास्तु दोष का पैदा होता तो उसके घर व जीवन में परेशानी बढ़ने लगती है। बहुत से लोग होते हैं जो वास्तु दोष को ठीक करने के बारे में जानकारी नहीं रखते तो बता दें कि घर में बिना किसी तरह की तोड़-फोड़ करवा भी वास्तु दोष से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए ज्यादा कुछ करने की जरूरत भी नहीं होती है। बल्कि अपने घर में बस कुछ चीजें बदलने की आवश्यकता है। तो आइए जानते हैं इन वास्तु उपायों के बारे में-

इन वास्तु दोष के कारण घर में नकारात्मक ऊर्जा रहती है जिसके कारण घर में कलेश, आर्थिक स्थिति का खराब होना, मानसिक व शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यही नहीं घर में बिना किसी कारण ही लड़ाई-झगड़े होते रहते हैं। यह सब वास्तु दोष के कारण होता है।

घर से वास्तु दोष दूर करने के उपाय-
वास्तु के अनुसार घर की छत पर किसी भी प्रकार के कबाड़ को नहीं रखना चाहिए, क्योंकि इससे नकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। इसके अलावा अगर छत का प्लास्टर हट गया है या छत में दरार पड़ गई है तो तुरंत मरम्मत करवा लेनी चाहिए। इससे वास्तु दोष से काफी हद तक बचा जा सकता है।

जिस घर में किचन और बाथरूम का दरवाजा आमने-सामने होता है, वहां भी नकारात्मक प्रभाव ज्यादा होते हैं, क्योंकि वास्तुशास्त्र के अनुसार इसे गलत माना जाता है। इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा ज्यादा तेजी से पैदा होती है। ऐसे में किचन और बाथरूम दोनों के बीच एक पर्दा कर दें या फिर दोनों को किसी तरह से दो भागों में बांट दें। ऐसा करने से भी वास्तु दोष का प्रभाव कम होता है।

ड्राइंग रूम का वास्तु दोष दूर करने के लिए यहां उगते हुए सूर्य, फूल या दौड़ते हुए सात घोड़ों की तस्वीर लगाई जा सकती है। माना जाता है इससे वास्तु दोष कम तो होता ही है साथ ही साथ वातावरण भी अच्छा रहता है।

सपूंर्ण घर के वास्तु दोष को दूर करने के लिए मुख्य द्वार में गणेश जी की मूर्ति या तस्वीर लगाएं। वास्तु मत है कि इससे घर में किसी भी तरह की नकारात्मक ऊर्जा या फिर कोई बाधा प्रवेश नहीं करती।

बात करें किचन की तो इसके लिए सबसे सही दिशा दक्षिण-पूर्व मानी जाती है लेकिन अगर किचन इस दिशा में न हो तो उत्तर-पूर्व दिशा यानी ईशान कोण दिशा में भगवान सिंदूरी गणेश की तस्वीर लगा सकते हैं। इससे भी वास्तु दोष का प्रभाव कम होता है।

घर के वास्तु दोष से छुटकारा पाने के लिए घर में वास्तु निवारण यंत्र रख सकते हैं। इससे भी लाभ प्राप्त होता है। इसके अलवा वास्तु दोष के छुटकारा पाने के लिए घर में काजल और मोर पंख भी रख सकते हैं।