गरीबी के कहर ने शिक्षा से किया दूर, CM भूपेश बघेल ने रोती बिलखती बच्ची के चेहरे पर लौटाई मुस्कान

Whatsapp

Bastar News: भेंट मुलाकत कार्यक्रम में एक बच्ची ने सीएम भूपेश बघेल को बताया कि, आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से वो और उसका भाई पढ़ाई भी छोड़ चुके हैं. यह सुनते ही सीएम ने तुरंत बच्ची की मदद की.

CM Bhupesh Baghel Bhent Mulakat Program in Bastar: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) भेंट मुलाकात कार्यक्रम के तहत बस्तर (Bastar) जिले की तीनों विधानसभा का दौरा कर रहे हैं. इतना ही नहीं सीएम बघेल यहां ग्रामीणों के बीच जन चौपाल भी लगा रहे हैं. गुरुवार को बस्तर विधानसभा के भैंसगांव में भी मुख्यमंत्री ने भेंट मुलाकत कार्यक्रम (Bhent Mulakat Program) के तहत जन चौपाल (Jan Choupal) लगाई और ग्रामीणों की समस्याओं को सुना. वहीं, ग्रामीणों की भीड़ के बीच मुख्यमंत्री ने एक छोटी बच्ची को रोते बिलखते देखा तो उसे अपने पास मंच पर बुलाया. सीएम ने बच्ची के सिर पर हाथ फेरा और उसे पानी पिलाया.

पढ़ाई से हो गए दूर बच्ची ने मुख्यमंत्री से बात की और बताया कि उसके पिता कि 15 साल पहले मौत हो चुकी है. घर ना होने की वजह से अपनी विधवा मां और भाई के साथ अपने मामा के यहां रहने को मजबूर है. आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से वो और उसका भाई पढ़ाई भी छोड़ चुके हैं, क्योंकि घरेलू कार्य में मां की मदद करनी पड़ती है. रोती हुई लोकेश्वरी के आंसुओं को पोछते हुए मुख्यमंत्री ने तत्काल उसकी मदद की. मदद के लिए आवेदन की आवश्यकता थी तो बस्तर जिले के सचिव ने बच्ची का आवेदन अपने हाथों से लिखा और मुख्यमंत्री को दिया. मुख्यमंत्री ने तत्काल कार्रवाई करते हुए लोकेश्वरी को 3 लाख रुपये की आर्थिक मदद स्वीकृत कर दी. साथ ही मकान मिलने के साथ विधवा पेंशन भी अब से मिलने की बात कही.

बच्ची के चेहरे पर लौटी मुस्कानभैंसगांव की रहने वाली बच्ची लोकेश्वरी बघेल ने बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद से वो काफी खुश है. लंबे समय से उसे स्कूल जाने की इच्छा है लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने की वजह से और मां के साथ घरेलू काम में हाथ बंटाने के चलते उसने अपनी पढ़ाई छोड़ दी और उसका भाई भी स्कूल नहीं जा रहा है. बच्ची ने कहा कि, उम्मीद है कि मुख्यमंत्री के कहने के बाद अब उसके परिवार के लिए घर मिल सकेगा और उनकी माता को विधवा पेंशन भी मिल सकेगी. पढ़ाई के लिए 3 लाख रुपये मिलने से उनकी सारी परेशानी दूर हो सकेगी. लोकेश्वरी ने कहा कि मुख्यमंत्री के मदद  के बाद वो काफी खुश है.