सिवान में आंधी तूफान के बीच हादसा, दीवार गिरने से मलबे में दबे दो बच्चे, अस्पताल ले जाते समय दोनों की हुई मौत

Whatsapp

अचानक हुए मौसम में बदलाव और तेज हवा की वजह से बच्चे अपने घरों से बाहर निकलकर उछल-कूद कर रहे थे. इसी दौरान घर के दरवाजे के समीप बाउंड्री की दीवार अचानक गिर गई.

सिवानः प्रदेश के सभी जिलों में बीते कई दिनों से मौसम बदला हुआ है. लगभग जिलों में बारिश हो रही है तो कई जगहों पर तेज हवाएं चल रही हैं. इसको लेकर मौसम विभाग हर दिन अलर्ट भी जारी कर रहा है. इस बीच आंधी तूफान में सिवान में हादसा हो गया. घर की दीवार गिरने से उसके मलबे में दबकर दो बच्चों की मौत हो गई. घटना सोमवार देर शाम की है. रात में आंधी के साथ जिले में बारिश हुई है. दोनों बच्चे पचरुखी थाना क्षेत्र के जसौली के शेख पट्टी गांव के हैं.

मृतकों में पचरुखी थाना क्षेत्र के जसौली के शेख पट्टी गांव निवासी आजाद हुसैन की सात वर्षीय पुत्री सारा परवीन और रियाज अहमद का आठ वर्षीय पुत्र अफरोज आलम शामिल है. घटना के बारे में बताया जाता है कि अचानक हुए मौसम में बदलाव और तेज हवा की वजह से बच्चे अपने घरों से बाहर निकलकर उछल-कूद कर रहे थे. इसी दौरान घर के दरवाजे के समीप बाउंड्री की दीवार अचानक उनके ऊपर गिर गई जिसमें दोनों दब गए.

दो बच्चों की मौत के बाद गांव में मातमी सन्नाटा

तेज आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़कर घटनास्थल पहुंचे. इसके बाद आनन-फानन में दीवार के मलबे के नीचे दबे बच्चों को बाहर निकाला गया. बच्चों को सिवान सदर अस्पताल लेकर लोग जा रहे थे लेकिन दोनों बच्चों की मौत हो गई. घटना के बाद पूरे परिवार में कोहराम मच गया. दो मासूम की मौत के बाद पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा है. इस घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची. मृतक के परिजनों से शव लेकर पोस्टमार्टम कराने की तैयारी करने लगी. स्थानीय लोगों ने प्रशासन से पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने की मांग की है.