स्पीकर ने विपक्ष को लगाई फटकार, स्पीकर जोशी ने कहा- हंगामा करवाकर मुझे ज्ञान दे रहे हो

Whatsapp

जयपुर । विधानसभा में रीट को लेकर बीजेपी विधायकों का हंगामा तीसरे दिन भी जारी रहा 11 बजे सदन की कार्यवाही शुरू होते ही बीजेपी विधायकों ने रीट की गड़बडियों की सीबीआई जांच की मांग को लेकर नारेबाजी शुरू कर दी। उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने सदन शुरू होते ही रीट का मामला उठाना चाहा, लेकिन स्पीकर सीपी जोशी ने इजाजत नहीं दी। स्पीकर के मना करने के बावजूद राठौड़ ने बोलना जारी रखा तो स्पीकर नाराज हो गए और फटकार लगाई।
स्पीकर ने कहा कि मैं खड़ा हूं और आप बोल रहे हैं, मैं आपको नाम लेकर बोल रहा हूं, आप सीनियर विधायक होकर भी ऐसा कर रहे हैं। इसके बाद स्पीकर ने प्रश्नकाल शुरू करवा दिया। भाजपा के 4 सस्पेंड विधायकों को सदन में लाने पर स्पीकर ने राजेंद्र राठौड़ से कहा- आप पार्लियामेंटेरियन हैं, कल 4 विधायकों को सस्पेंड किया था, उन्हें लेकर सदन में आ गए और हंगामा करवा रहे हो। मुझे संसदीय परंपराओं का ज्ञान दे रहे हो। भारी हंगामे के बाद विधानसभा में तीन दिन से जारी गतिरोध टूटने के आसार बने। स्पीकर सीपी जोशी ने पहले तो तल्ख तेवर दिखाए लेकिन बाद में प्रश्नकाल खत्म होते ही उनके तेवर नरम हुए। स्पीकर ने नेता प्रतिपक्ष से गतिरोध तोडऩे की बात कही जिसके बाद विपक्ष भी नरम पड़ा। नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने रीट पर चर्चा कराने के अलावा चार विधायकों का निलंबन वापस लेने और कल की घटना मंत्रियों के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की। कटारिया और राठौड़ ने कहा कि जब तक चारों का निलंबन रद्द नहीं होता और रीटपर कोई फैसला नहीं होता तब तक वे सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले सकते। इस पर स्पीकर सीपी जोशी ने कहा कि पहले बैठकर चर्चा कर लेते हैं। स्पीकर ने 12 बजकर 26 मिनट पर एक घंटे के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। अब स्पीकर के चैंबर में चार विधायकों निलंबन वापसी और रीट पर आगे सरकार के जवाब का समय तय होगा।