जयपुर में दुनिया के तीसरे सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का शिलान्यास, गहलोत बोले यह प्रदेश के लिए स्वर्णिम दिन

Whatsapp

जयपुर । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में खेलों और खिलाड़ियों को पूरी प्रतिबद्धता के साथ प्रोत्साहन दे रही है। हमारा प्रयास है कि प्रदेश में खेलों का वातावरण तैयार हो और यहां की प्रतिभाएं देश-दुनिया में अपना और राज्य का नाम रोशन करें। इसी उद्देश्य के साथ जयपुर के पास चौंप में विश्व का तीसरा सबसे बड़ा स्टेडियम बनाया जा रहा है।
गहलोत ने मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चौंप में बनने वाले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के शिलान्यास समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा आज का दिन राजस्थान के क्रिकेट जगत के लिए स्वर्णिम दिन है। प्रदेश के खिलाड़ियों एवं खेल प्रेमियों का सपना पूरा होने जा रहा है। उन्होंने कहा तत्कालीन आरसीए अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी ने यह सपना देखा था, जिसे वर्तमान अध्यक्ष वैभव गहलोत राज्य सरकार एवं बीसीसीआई के सहयोग से पूरा करने जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि राजस्थान का क्रिकेट से पुराना नाता रहा है। सन 1931 में यहां राजपूताना क्रिकेट संघ बना था। आज प्रदेश के 33 जिलों में क्रिकेट संघ बने हुए हैं। ऎसे में राजस्थान को उसका हक मिलना चाहिए। उन्होंने बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली एवं सचिव जय शाह से राजस्थान को अंतर्राष्ट्रीय मैचों की मेजबानी प्राथमिकता से देने की मांग की। उन्होंने उम्मीद जताई कि राजस्थान के खेल प्रेमियों को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के हिस्से में अधिक से अधिक अंतर्राष्ट्रीय मैच आयोजित किए जाएंगे।
हाल ही में जयपुर के एसएमएस स्टेडियम में 8 साल बाद आयोजित अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच का जिक्र करते हुए उन्होंने बीसीसीआई से राजस्थान को और अंतर्राष्ट्रीय मैच देने की मांग की ताकि यहां के खेल प्रेमियों का उत्साह बरकरार रहे। जयपुर के एसएमएस स्टेडियम, जोधपुर में बरकतुल्ला खां स्टेडियम, उदयपुर में बन रहे स्टेडियम तथा जयपुर के पास चौंप में अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम बनने से भविष्य में राजस्थान में अतंर्राष्ट्रीय स्तर के चार स्टेडियम होंगे।
गहलोत ने कहा हम सभी का ध्येय है कि इस अन्तर्राष्ट्रीय स्टेडियम का निर्माण कार्य समय पर पूरा हो और जल्द ही इस शानदार स्टेडियम की सौगात प्रदेश के खेल प्रेमियों एवं आमजन को मिले। आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत ने कार्यक्रम की शुरूआत में मुख्यमंत्री एवं अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि आज का दिन ऎतिहासिक है, जिसके हम गवाह बने हैं। खेल प्रेमियों, क्रिकेटर्स एवं आमजन की इच्छा थी कि जयपुर में अतंर्राष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम बने। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत, आरसीए के मुख्य संरक्षक डॉ सीपी जोशी एवं बीसीसीआई के मार्गदर्शन तथा सहयोग से यह संभव हो पाया।