Breaking News
Home / मध्यप्रदेश / भोपाल / सिंधिया की चेतावनी के बाद कमलनाथ के मंत्री की सलाह, कहा- सड़क पर न उतरे महाराज

सिंधिया की चेतावनी के बाद कमलनाथ के मंत्री की सलाह, कहा- सड़क पर न उतरे महाराज

भोपाल: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अतिथि शिक्षकों के समर्थन में सड़क पर उतरने वाले बयान पर राजनीति गरमा गई है। उनके इस बयान पर कमलनाथ के कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह ने उन्हें सड़क पर न उतरने की सलाह दी है। गोविंद सिंह ने कहा कि सिंधिया प्रदेश के वरिष्ठ नेता हैं उन्हें सड़क पर उतरने की जरुरत नहीं है।

सिंधिया के बयान पर आज प्रदेश के कैबिनेट मंत्री ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि सिंधिया प्रदेश के नेता है उन्हें सड़क पर उतरने की जरूरत नहीं है। उनको इस विषय पर सीएम कमलनाथ से चर्चा करनी चाहिए। वे अपनी प्रदेश की वित्तीय हालत देखते हुए कदम उठाएं। अतिथि विद्वान कोई नियमित कर्मचारियों के तौर पर नहीं रखे गए थे, टेंपरेरी रखे गए थे। वे नियमित तब होंगे जब नियमों का पालन करेंगे।

इसके साथ ही गोविंद सिंह ने दिल्ली में कांग्रेस की हार पर सिंधिया की प्रतिक्रिया पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को मानसिकता बदलने की सलाह दी। उन्होंने कहा दिल्ली की हार पार्टी के संगठन की कमजोरी है। यह स्थिति अच्छी नहीं। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को दिल्ली में बैठने की बजाय गांव में उतरना चाहिए। अपनी मानसिकता बदलनी चाहिए।

बता दें कि सिंधिया ने टीकमगढ़ में अतिथि विद्वानों के समर्थन में सड़कों पर उतरने की बात कही थी और कहा था कि यदि घोषणा पत्र में कही गई एक एक बात पर कांग्रेस सरकार अमल नहीं करेगी तो वे खुद को अकेले न समझे। थोड़ा सब्र हमारे शिक्षकों को रखना होगा। बारी हमारी आयेगी, ये विश्वास, मैं आपको दिलाता हूं और अगर बारी न आये तो चिंता मत करो, आपकी ढाल भी मैं बनूंगा और आपका तलवार भी मैं बनूंगा।

About Akhilesh Dubey

Check Also

माध्यमिक कक्षाएँ 2 सत्रों में 30 से 45 मिनट की होंगी

राष्ट्र चंडिका भोपाल , 18 जून 2020। राज्य शासन ने ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *