Breaking News
Home / राज्य / नईदिल्ली / #Pulwama Attack: शहीदों को मोदी-शाह की श्रद्धांजलि, बोले-देश कभी नहीं भूलेगा जवानों की शहादत

#Pulwama Attack: शहीदों को मोदी-शाह की श्रद्धांजलि, बोले-देश कभी नहीं भूलेगा जवानों की शहादत

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2019 जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों पर हुए जघन्य आतंकी हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शुक्रवार को कहा कि देश इन शहीदों की शहादत को कभी नहीं भूलेगा। प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया कि पिछले वर्ष पुलवामा में सुरक्षा बलों पर हुए जघन्य आतंकी हमले में जान गंवाने वाले वीर शहीदों को श्रद्धांजलि। वे असाधारण लोग थे जिन्होंने हमारे देश की सुरक्षा और सेवा करने में अपना जीवन समर्पित कर दिया। उन्होंने कहा कि भारत उनकी शहादत को कभी नहीं भूलेगा।

PunjabKesari

वहीं भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी और कहा कि पूरा देश आतंकवाद की बुराई के खिलाफ लड़ाई में एकजुट है। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मैं पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देता हूं। अपनी मातृभूमि की सम्प्रभुता और अखंडता के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले हमारे बहादूर जवानों और उनके परिवारों के प्रति भारत हमेशा आभारी रहेगा।

PunjabKesari

पुलवामा हमले की बरसी पर भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद होने वाले हमारे सीआरपीएफ के जवानों को नमन करता हूं। देश हमारे वीर जवानों की शहादत सदैव स्मरण रखेगा। नड्डा ने ट्वीट किया कि हम सभी एकजुट होकर आतंकवाद को जड़ से समाप्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

PunjabKesari

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने ट्वीट में कहा कि 2019 में आज के ही दिन जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ के जवानों को याद कर रहा हूं । भारत उनके बलिदान को कभी नहीं भूल पाएगा। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ पूरा देश एकजुट है और हम इस बुराई के खिलाफ लड़ाई को जारी रखने को प्रतिबद्ध हैं।

14 फरवरी को ही जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर अब तक के सबसे बड़े आत्मघाती हमले को अंजाम दिया था। इस आतंकी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के 40 से ज्यादा जवान शहीद हुए थे। आज पुलवामा हमले की पहली बरसी है।

About Akhilesh Dubey

Check Also

ऑनलाइन परीक्षा : कश्मीर में धीमी गति की इंटरनेट सेवा छात्रों के लिए परेशानी का सबब

नई दिल्लीः दिल्ली विश्वविद्यालय में स्नातक पाठ्यक्रमों के अंतिम वर्ष के लिए सोमवार से शुरू हुई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *